शुक्रवार, 7 मई 2021 | 12:31 IST
समर्थन और विरोध केवल विचारों का होना चाहिये किसी व्यक्ति का नहीं!!
होम | उत्तराखंड | कैबिनेट मंत्री गणेश जोशी ने मसूरी में कोविड चिकित्सा व्यवस्थाओं की मॉनिटरिंग के लिए की वर्चुअल समीक्

कैबिनेट मंत्री गणेश जोशी ने मसूरी में कोविड चिकित्सा व्यवस्थाओं की मॉनिटरिंग के लिए की वर्चुअल समीक्


कैबिनेट मंत्री गणेश जोशी वर्तमान कोविड -19 महामारी के दृष्टिगत स्वास्थ्य सुविधाओं को पुख्ता करने, उपलब्ध सुविधाओं को कोविड उपचार हेतु समर्पित करने तथा अन्य उपचार सुविधाओं के विकास हेतु फुल फॉर्म में आकर फ्रंटफुट में रह कर कार्य कर रहे हैं। आज कैबिनेट मंत्री ने मसूरी पहुंच कर अस्पताल अधिकारियों, आई0सी0यू0 का निर्माण कर रही कार्यदायी संस्था के अधिकारियों, प्रशासनिक अधिकारियों के साथ वर्चुअल कॉन्फ्रेंस की। इस दौरान उन्होंने मसूरी विधानसभा क्षेत्र में कोविड उपचार सुविधाओं हेतु विधायक निधि से एक करोड़ दिए जाने की घोषणा की। इस धनराशि से मसूरी उप जिला चिकित्सालय में आक्सीजन प्लांट और अन्य सुविधाएं तथा देहरादून कैंट अस्पताल में विकसित किए जा रहे कोविड केयर सेंटर हेतु अत्याधुनिक एम्बुलेंस उपलब्ध करवाई जाएगी। ज्ञात हो कि उप जिला चिकित्सालय मसूरी को डेडीकेटेड कोविड चिकित्सा अस्पताल के तौर पर परिवर्तित किया जा चुका है, तथा कोविड मरीजों को उचार दिया जाना प्रारम्भ कर दिया गया है।

मसूरी के तिलक लाईब्रेरी हॉल में उन्होंने कहा कि इस समय राज्य वासियों के जीवन को बचाना तथा कोरोना महामारी को मात देना राज्य की सर्वोच्च प्राथमिकता है। कैबिनेट मंत्री गणेश जोशी ने स्वास्थ्य विभाग तथा प्रशासन के अधिकारियों से वर्चुअल कॉन्फ्रेंसिंग कर मसूरी के साथ प्रदेश की स्वास्थ्य सेवाओं को लेकर वार्ता की। उनके द्वारा मसूरी में मसूरी उप जिला चिकित्सालय कोविड केयर सेंटर बनाए जाने को लेकर और उसमें सभी सुविधाएं मुहैया कराने के निर्देश दिए गए। इस दौरान मसूरी अस्पताल में जल्द से जल्द आई0सी0यू0 प्रारम्भ करने तथा अस्पताल हेतु आक्सीजन प्लांट स्थापित करने के लिए अस्पताल के सी0एम0एस0, उपजिलाधिकारी मसूरी तथा आक्सीजन प्लांट स्थापित करने वाली कम्पनियों से भी वार्ता की तथा आवश्यक दिशा-निर्देश दिए।

अब तक मसूरी के उप जिला चिकित्सालय को 40 ऑक्सीजन सिलेंडर उपलब्ध करवाए गए हैं। परंतु भविष्य के लिए अस्पताल में अपना ऑक्सीजन प्लांट स्थापित करने की सम्भावनाओं पर चर्चा की। इस मौके पर कैबिनेट मंत्री ने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को किसी प्रकार की कोई कोताही न बरतने के निर्देश दिए गए।

 

कैबिनेट मंत्री गणेश जोशी ने कहा कि राज्य सरकार प्रदेश में अपना संक्रमण से निपटने के लिए पूरी ताकत के साथ काम कर रही है। मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत इस संबंध में दिन रात काम कर रहे हैं वहीं प्रदेश के विभिन्न क्षेत्रों में कोविड-19 सेंटर के साथ ऑक्सीजन प्लांट भी लगाए जा रहे हैं। जिससे कि कोरोना संक्रमित मरीजों का जीवन बचाया जा सके। उन्होंने कहा कि माता मंगला के सहयोग से देहरादून में 500 बेड के कोविड केयर सेंटर बनाया जा रहा है वहीं मसूरी में 5 बेड का आईसीयू भी जल्द शुरू कर दिया जाएगा। मसूरी में ऑक्सीजन की कमी ना हो इसको लेकर पुख्ता इंतजाम किए जा रहे हैं। वर्तमान में मसूरी में 500 से अधिक कोरोना संक्रमित मरीज है वह 10 कंटेनमेंट जोन बनाए गए हैं। उन्होंने प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग द्वारा कोरोना संक्रमण का को लेकर किए जा रहे कार्यों की प्रशंसा की। मसूरी में 12000 से ज्यादा लोगों कोरोना वैक्सीन लगाई जा चुकी है और बड़े स्तर पर वैक्सीनेशन का काम चल रहा है।

उन्होंने बताया कि प्रदेश में कोरोना संक्रमण को कंट्रोल करने के लिए सरकार सभी तरीके के प्रयास कर रही है। मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत द्वारा सर्वदलीय बैठक बुलाकर सभी लोगों की सुझाव लेने के बाद कोरोना संक्रमण से निपटने कार्य योजना तैयार की गई है। जिस पर सभी लोग पूरी ताकत से काम कर रहे हैं। उन्होने कहा कि कोरोना संक्रमण की चैन को तोड़ने के लिए जन सहभागिता अत्यधिक जरूरी है। उन्होंने प्रदेश और देश की जनता से आग्रह किया की सभी लोग सरकार द्वारा जारी कोविड के गाइडलाइन का पालन करे।



© 2016 All Rights Reserved.
Follow US On: