शनिवार, 24 जुलाई 2021 | 09:40 IST
समर्थन और विरोध केवल विचारों का होना चाहिये किसी व्यक्ति का नहीं!!
सीएम पुष्कर धामी ने किया 179 करोड़ की 65 योजनाओं का लोकार्पण,शिलान्यास          मुख्यमंत्री पुष्कर धामी ने रुद्रपुर में अधिकारियों के साथ विकास कार्यों की समीक्षा          कोरोना महामारी के बीच ओलंपिक गेम्स हुए शुरू          सीएम पुष्कर धामी ने कोविड-19 से बचाव के लिये उच्चाधिकारियों एवं जिलाधिकारियों के साथ की समीक्षा          उत्तराखंड में कांग्रेस का सियासी संकट खत्म,हरीश रावत होंगे मुख्यमंत्री का चेहरा          कोरोना संक्रमण के चलते आर्थिक मंदी से जूझ रहे चारधाम यात्रा व पर्यटन को उभारे के लिए धामी सरकार की 200 करोड़ रूपए के आर्थिक पैकेज की घोषणा          प्रधानमंत्री आवास योजना शहरी के तहत उत्तराखंड में 240 लाभार्थियों को दिया गया आवास कब्जा          इसरो की सेटेलाइट से बच्चें करेंगे ऑन लाइन पढ़ाई         
होम | उत्तराखंड | तोता घाटी एवं सौंणपाणी पर चलती कार पर गिरा बोल्डर,प्रोफेसर मनोज सुंदरियाल की मौत

तोता घाटी एवं सौंणपाणी पर चलती कार पर गिरा बोल्डर,प्रोफेसर मनोज सुंदरियाल की मौत


ऋषिकेश-बदरीनाथ हाईवे पर तोता घाटी एवं सौंणपाणी के बीच अचानक पहाड़ी से बोल्डर के चलती कार पर गिरने से कार में सवार राजकीय महाविद्यालय नरेंद्रनगर में प्रवक्ता डॉ.मनोज सुंदरियाल गंभीर रूप से घायल हो गए थे। जिन्हें सेना के जवानों ने कार की छत काटकर बाहर निकालाकर एम्स ऋषिकेश में भर्ती करवाया था। जहां उपचार के दौरान उनकी मौत हो गई। जिसके बाद से उनके परिवार-गांव और राजकीय महाविद्यालय नरेंद्रनगर में शोक की लहर दौड़ गई।

घटना के समय डॉ.मनोज सुंदरियाल कार की पिछली सीट पर बैठे थे। जैसे ही उनकी कार तोता घाटी से गुजर रही थी। इस दौरान अचानक से पहाड़ी से भारी पत्थर उनकी कार पर आकर गिर गया। जिसके चलते मनोज सुंद्रियाल गंभीर रूप से घायल हो गए। जबकि कार चला रहे चालक और बगल की सीट पर बैठे मनोज सुंदरियाल के बड़े भाई को मामूली चोटें आई है।

ऋषिकेश-बदरीनाथ हाईवे पर तोता घाटी एवं सौंणपाणी के बीच हुए इस दर्दनाक हादसे के बारे में देवप्रयाग के एसओ महिपाल सिंह रावत ने बताया की यूके नंबर की गाड़ी UK07DE2675 के ऊपर तोता घाटी के पास पहाड़ी से बोल्डर गिरने की सूचना मिली थी। इस कार के पीछे आ रहे सेना जवानों ने इस कार में सवार लोगों को किसी तरह से बाहर निकाला,लेकिन पिछली सीट पर बैठा एक व्यक्ति पत्थर गिरने से कार में है फंस गया। जिनका नाम मनोज सुंद्रियाल बताया गया है। जो कि राजकीय महाविद्यालय नरेंद्रनगर में प्रवक्ता के पद पर कार्यरत है। जिन्हें कड़ी मशक्कत  के बाद सेना के जवानों द्वारा बाहर निकालकर एम्स ऋषिकेश में भर्ती कराया गया था। लेकिन अब सूचना मिली हैं कि उपचार के दौरान उनकी मौत हो गई।

आपको बता दें कि उत्तराखण्ड में पिछले कई दिनों से भारी बारिश होने के कारण कई मार्ग मलबा आने से बंद है। ऐसे में यात्रा करना खतरे से खाली नहीं है।



© 2016 All Rights Reserved.
Follow US On: