सोमवार, 24 फ़रवरी 2020 | 07:51 IST
समर्थन और विरोध केवल विचारों का होना चाहिये किसी व्यक्ति का नहीं!!
भारत बना रहा है नेवी के लिए नई हाईटेक क्रूज मिसाइल, जद में होगा पाकिस्‍तान          भारतीयों के स्विस खातों, काले धन के बारे में जानकारी देने से वित्त मंत्रालय ने किया इंकार          पीएम की कांग्रेस को खुली चुनौती,अगर साहस है तो ऐलान करें,पाकिस्तान के सभी नागरिकों को देंगे नागरिकता          नागरिकता संशोधन कानून पर जारी विरोध के बीच पीएम मोदी ने लोगों से बांटने वालों से दूर रहने की अपील की है          भारतीय संसद का ऐतिहासिक फैसला,सांसदों ने सर्वसम्मति से लिया फैसला,कैंटीन में मिलने वाली खाद्य सब्सिडी को छोड़ देंगे           60 साल की उम्र में सेवानिवृत्त करने पर फिलहाल सरकार का कोई विचार नहीं- जितेंद्र सिंह          मोदी सरकार का बड़ा फैसला, दिल्ली की अवैध कॉलोनियां होगी नियमित          पीओके से आए 5300 कश्मीरियों के लिए मोदी सरकार का बड़ा ऐलान, मिलेंगे साढ़े पांच लाख रुपये          पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने कबूल किया कि उनका देश कश्मीर मुद्दे का अंतरराष्ट्रीयकरण करने की कोशिशों में नाकाम रहा          संयुक्‍त राष्‍ट्र ने भी माना,जलवायु परिवर्तन से निपटने में अहम है भारत की भूमिका          बैंकों और बीमा कंपनियों में लावारिस पड़े हैं 32,000 करोड़ से भी ज्यादा पैसे, नहीं है कोई दावेदार         
होम | उत्तराखंड | सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत ने किया कमल कान्त जोशी एवं दीपक कुमार की पुस्तक का विमोचन

सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत ने किया कमल कान्त जोशी एवं दीपक कुमार की पुस्तक का विमोचन


मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने मुख्यमंत्री आवास में कमल कान्त जोशी एवं दीपक कुमार द्वारा लिखित पुस्तक इन्वायरमेंटल साइंस का विमोचन किया।

मुख्यमंत्री ने कहा कि शिक्षक दिवस के अवसर पर दो शिक्षकों द्वारा पर्यावरण जैसे ज्वलन्त विषय पर छात्रों के व्यापक हित में लिखी गई पुस्तक का विमोचन किया जाना अच्छी पहल है। पर्यावरण सुरक्षा हम सब की चिन्ता है। उन्होंने कहा कि पर्यावरण प्रेम एवं राष्ट्र भक्ति उत्तराखण्ड के स्वभाव में है। प्रकृति से हमारा स्वाभाविक लगाव है। मुख्यमंत्री ने कहा कि यह पुस्तक कॉलेज व विश्वविद्यालय के छात्रों को पर्यावरण के प्रति जागरूक करने में निश्चित रूप से मददगार होगी।
पुस्तक के लेखकों ने बताया कि उनके द्वारा पर्यावरण जैसे विषय को रोचकता प्रदान करते हुए इसके विभिन्न पहलुओं को छात्रों के व्यापक हित में प्रस्तुत किया गया है।
 इस अवसर पर अध्यक्ष सहकारी संघ बृजभूषण गैरोला, उपाध्यक्ष पलायन आयोग डॉ. एस.एस.नेगी, मुख्यमंत्री के तकनीकी सलाहकार डा. नरेन्द्र सिंह, कुलपति गुरू रामराय विश्वविद्यालय डा. पी. पी. ध्यानी, पूर्व कुलपति डॉ. एस.पी.सिंह, पूर्व डी.ए.वी प्राचार्य डॉ. देवेन्द्र भसीन सहित अनेक गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।



© 2016 All Rights Reserved.
Follow US On: