बुधवार, 23 जून 2021 | 11:33 IST
समर्थन और विरोध केवल विचारों का होना चाहिये किसी व्यक्ति का नहीं!!
सीएम रावत ने रेल विकास निगम के अधिकारियों से ली ऋषिकेश-कर्णप्रयाग रेल लाईन की जानकारी          हुंडई मोटर इंडिया फाउंडेशन ने उत्तराखंड को प्रदान किए वेंटिलेटर,ऑक्सीमीटर एवं सैनिटाइजर सहित अन्य सामान          सीएम ने दिखाई पांच वातानुकूलित इलेक्ट्रिक बसों को हरी झंडी          इसरो की सेटेलाइट से बच्चें करेंगे ऑन लाइन पढ़ाई          पंजाब चुनावों से पहले कांग्रेस में छिड़ी जंग          उत्तराखंड में कोरोना कर्फ्यू के लिए दिशा-निर्देश जारी          उत्तराखंड में जल्द दूर होंगी सेवानिवृत्त राजकीय पेंशन संबंधी विसंगतियां          सचिन तेंदुलकर बने सदी के सबसे तेज बल्लेबाज          अमेरिका के राष्ट्रपति को पीछे छोड़ नंबर वन बने पीएम मोदी         
होम | सेहत | इंफोटेरिसिन-बी इंजेक्शन वैक्सीन लगाते ही बिगड़ी ब्लैक फंगस के मरीजों की हालत

इंफोटेरिसिन-बी इंजेक्शन वैक्सीन लगाते ही बिगड़ी ब्लैक फंगस के मरीजों की हालत


देश में कोरोना महामारी के साथ-साथ ब्लैक फंगस लगातार फैलता जा रहा है। जिसे रोकने के लिए सरकार की तरफ से बड़े कदम उठाए जा रहे हैं। लेकिन दोनों की महामारी देश के सामने बड़ी चुनौती बनकर खड़ी हो गई है। इस बीच ब्लैक फंगस के मरीजों को इंफोटेरिसिन-बी इंजेक्शन लगाया गया, जिसके कारण उनकी हलत बिगड़ गई। मध्यप्रदेश के इंदौर और सागर के बाद जबलपुर के अस्पतालों में भी ब्लैक फंगस के मरीजों को इंफोटेरिसिन-बी इंजेक्शन दिए जाने के बाद 70 से ज्यादा मरीजों की हालत बिगड़ गई। मरीजों में बुखार, उल्टी, सिर चकराने और ठंड से कांपने के लक्षण नजर आने के बाद प्रशासन ने इंफोटेरिसिन-बी इंजेक्शन के इस्तेमाल पर रोक लगा दी। अधिकारियों ने बताया कि दो अस्पतालों में इंफोटेरिसिन-बी के इंजेक्शन लगाने के बाद मरीजों की हालत बिगड़ गई। इसके बाद राज्य सरकार की ओर से आपूर्ति किए गए इंजेक्शन का स्टॉक वापस कर दिया गया है। इस खबर का सामने आने से हड़कंप मच गया है। इसके साथ ही लोगों के अंदर डर भी पैदा हो गया है।



© 2016 All Rights Reserved.
Follow US On: