मंगलवार, 24 मई 2022 | 02:16 IST
समर्थन और विरोध केवल विचारों का होना चाहिये किसी व्यक्ति का नहीं!!
30 जून से शुरू होगी अमरनाथ यात्रा          शंघाई मिले कोरोना का एक दिन में 23,000 से ज्‍यादा नए मामले          रूस ने भारत को दिए एस-400 मिसाइल सिस्टम के पार्ट्स          कर्नाटक हाईकोर्ट का हिजाब विवाद पर बड़ा फैसला,हिजाब इस्लाम का हिस्सा नहीं          सीबीएसई की 10वीं की परीक्षाएं 26 अप्रैल से 24 मई तक, 12वीं की परीक्षाएं 26 अप्रैल से 15 जून तक आयोजित की जाएगी          केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड ने जारी की टर्म 2 परीक्षा के लिए 10वीं और 12वीं की डेटशीट          आरबीआई ने पेटीएम पेमेंट्स बैंक को नए ग्राहक जोड़ने से रोका, आईटी ऑडिट का भी दिया आदेश          8 मई को खुलेंगे श्री बदरीनाथ धाम के कपाट          कांग्रेस दफ्तरों में होगी सीडीएस जनरल बिपिन सिंह रावत और जनरल जोशी की फोटो         
होम | उत्तराखंड | भाजपा प्रदेश प्रवक्ता रवीन्द्र जुगरान ने दी हरीश रावत के बयान पर तीखी प्रतिक्रिया-कहा बहुसंख्यक हिंद

भाजपा प्रदेश प्रवक्ता रवीन्द्र जुगरान ने दी हरीश रावत के बयान पर तीखी प्रतिक्रिया-कहा बहुसंख्यक हिंद


भाजपा प्रदेश प्रवक्ता व उत्तराखंड राज्य आंदोलनकारी रवीन्द्र जुगरान ने पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत जी के बयान पर तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि हरीश रावत जी देवभूमि उत्तराखंड में मुस्लिम तुष्टिकरण की नीति के तहत प्रारंभ से ही बहुसंख्यक हिंदुओं को विभाजित करने की योजना के कुत्सित प्रयास कर रहे हैं जिसमें वो ना पूर्व में सफल हुए न अब होंगे।

आपको बता दें कि हरीश रावत ने कुछ दिन पूर्व ब्राह्मण आयोग,स्वर्ण आयोग बनाने की बात कही थी। जुगरान ने कहा की अपने मुख्यमंत्रित्व काल में वह हरिद्वार से सांसद  रहते हुए व केंद्र में मंत्री रहते हुए उन्होंने हरिद्वार जनपद में मुस्लिम तुष्टिकरण को बढ़ावा दिया व इसी कड़ी में इस बार रामनगर विधानसभा से चुनाव लड़ने का प्रयास किया पर उनका टिकट बदल दिया गया।

रामनगर विधानसभा में मुस्लिम समुदाय की बड़ी आबादी के दृष्टिगत ही चुनाव मैदान में उतरने का मन बनाया था।  हरीश रावत जी की मुस्लिम तुष्टिकरण की राजनीति से उनको ही नुकसान उठाना पड़ा क्योंकि हरिद्वार में दलगत राजनीति से ऊपर उठकर मुस्लिम तुष्टिकरण के चलते हिंदू मतदाता में धुरवीकरण हुआ नतीजन हरीश रावत जी हरिद्वार से भी विधानसभा का चुनाव हार गये।  जुगरान ने कहा की उत्तराखंड में साक्षरता लगभग 92% है यहां की राष्ट्रवादी व पढ़ी लिखी जनता इनके मुस्लिम तुष्टिकरण की योजना को अच्छी तरह से समझती है और अब कांग्रेस बेनकाब हो चुकी है।

 

 



© 2016 All Rights Reserved.
Follow US On: