सोमवार, 8 अगस्त 2022 | 07:37 IST
समर्थन और विरोध केवल विचारों का होना चाहिये किसी व्यक्ति का नहीं!!
प. बंगाल: अर्पिता मुखर्जी के फ्लैट से 28.90 करोड़ रुपये और 5 किलो से ज्यादा सोना बरामद          उत्तराखंड में कोरोना के 334 नए मामले, 2 लोगों की मौत          1 से 4 अगस्त तक भारत दौरे पर रहेंगे मालदीव के राष्ट्रपति इब्राहिम सोलिह          बंगाल शिक्षा घोटाला: पार्थ चटर्जी को मंत्री पद से हटाया गया           संसद में स्मृति ईरानी और सोनिया गांधी के बीच नोकझोंक           गुजरात: जहरीली शराब कांड में एक्शन, SP का तबादला, 2 डिप्टी SP सस्पेंड           दिल्ली में फर्जी कॉल सेंटर का भंडाफोड़, 3 गिरफ्तार          पार्थ चटर्जी के घर में चोरी, लोग समझे ED का छापा पड़ा है          कर्नाटक में प्रवीण हत्याकांड में पुलिस ने अब तक 21 लोगों की हिरासत में लिया         
होम | उत्तराखंड | उत्तराखंड के राशन कार्ड धारक ध्यान दें, अगस्त के बाद पुराने कार्ड से नहीं मिलेगा राशन

उत्तराखंड के राशन कार्ड धारक ध्यान दें, अगस्त के बाद पुराने कार्ड से नहीं मिलेगा राशन


उत्तराखंड में राशन कार्ड धारकों के लिए अच्छी खबर है जुलाई से अगस्त माह में सभी राशन कार्ड धारकों के राशन कार्ड डिजिटल हो जाएंगे पूरे प्रदेश में डिजिटल राशन कार्ड (Digital ration Card) जल्द ही सभी को वितरित कर दिए जाएंगे। इससे राशन कार्ड धारकों को बड़ा फायदा भी होने वाला है।

 

वर्तमान में डिजिटल राशन कार्ड बनाने की प्रक्रिया गतिमान है और जुलाई 2022 के अंत तक सभी को डिजिटल राशन कार्ड दिए जाने का लक्ष्य रखा गया है. मई 2022 तक प्रदेश में 12 लाख 58 हजार 544 राशन कार्ड धारकों को डिजिटल राशन कार्ड वितरित किए जा चुके हैं।

 

पुराने राशन कार्डों की बुकलेट एक छोटे से स्मार्ट कार्ड में बदल जाएगी. इससे राशन कार्ड धारकों को एक यूनिक नम्बर मिलेगा. स्मार्ट राशन कार्ड फटने, गलने और कैरी करने में तो आसान होगा ही इसके अलावा राशन कार्ड का यूनिक नम्बर पूरे देश में एक ही उपभोक्ता का होगा. इतना ही नहीं डिजिटली तौर पर स्मार्ट कार्ड के इस यूनिक नम्बर से उपभोक्ता अपने राशन की पूरी डिटेल्स भी आसानी से ले सकेंगे. यूनिक नम्बर से उपभोक्ता ये जानकारी एक क्लिक पर ले पायेंगे कि उन्होंने कब-कब और कितना राशन लिया है। डिजिटल राशन कार्ड उपभोक्ता की एक आईडी के तौर पर भी काम करेगा।

 

उत्तराखंड में कुल 91 हजार राशन कार्ड धारकों ने अपने राशन कार्ड को सरेंडर किया है। खाद्य आपूर्ति मंत्री रेखा आर्य का कहना है कि पूरे प्रदेश में अभी तक 91 हजार राशन कार्ड धारक अपने राशन कार्ड को सरेंडर कर चुके हैं. उनका कहना है कि अपात्र लोगों से सरकार ने अपील की थी कि वह अपने राशन कार्ड को सरेंडर कर दें। मगर 31 मई को जब मियाद पूरी हुई तो भारी तादाद में राशन कार्ड धारक राशन कार्ड को जमा करने के लिए डीएसओ ऑफिस पहुंच गए।

 

ऐसे में सरकार ने 30 जून तक राशन कार्ड के सरेंडर के लिए वक्त बढ़ा दिया था पूरे प्रदेश में 91 हजार राशन कार्ड धारक अपने राशन कार्ड को सरेंडर कर चुके हैं. खाद्य आपूर्ति मंत्री रेखा आर्य ने राशन कार्ड सरेंडर करने वालों का आभार जताया है और धन्यवाद दिया खाद्य आपूर्ति मंत्री रेखा आर्य का कहना है कि प्रदेश में अपने स्तर से राशन कार्ड बनाए जाएंगे। उन्होंने कहा कि जो भी पात्र लोग हैं उनको राशन कार्ड आवंटित किए जाएंगे।

 



© 2016 All Rights Reserved.
Follow US On: