शुक्रवार, 7 अगस्त 2020 | 03:18 IST
समर्थन और विरोध केवल विचारों का होना चाहिये किसी व्यक्ति का नहीं!!
पीएम मोदी ने रखी राम मंदिर की नींव, देश भर में घर-घर दीप प्रज्ज्वलित कर मनाई जा रही है खुशियां          उत्तराखंड में भूमि पर महिलाओं को भी मिलेगा मालिकाना हक          सीएम रावत ने गूगल के सीईओ सुंदर पिचाई को लिखा पत्र,उत्तराखंड में आइटी सेक्टर में निवेश करने का किया अनुरोध           कोरोना के चलते रद्द हुई अमरनाथ यात्रा,अमरनाथ श्राइन बोर्ड ने रद्द करने का किया एलान           कोटद्वार में अतिवृष्टि से सड़क पर आया मलबा, बरसाती नाले में बही कार, चालक की मौत          चारधाम देवस्थानम बोर्ड मामले में उत्तराखंड सरकार को बड़ी राहत,सुब्रह्मण्यम स्वामी की याचिका हाईकोर्ट          प्रधानमंत्री ने वीडियो कांफ्रेंसिंग से की केदारनाथ के निर्माण कार्यों की समीक्षा, कहा धाम के अलौकिक स्वरूप में और भी वृद्धि होगी          बैंकों और बीमा कंपनियों में लावारिस पड़े हैं 32,000 करोड़ से भी ज्यादा पैसे, नहीं है कोई दावेदार         
होम | देश | लेफ्टिनेंट गवर्नर डी.के जोशी ने उत्तराखंड युद्ध स्मारक में संरक्षक के रूप में शामिल होने की सहमति दी

लेफ्टिनेंट गवर्नर डी.के जोशी ने उत्तराखंड युद्ध स्मारक में संरक्षक के रूप में शामिल होने की सहमति दी


पहाड़ की माटी में कई प्रतिभाओं ने जन्म लिया है। इनमें से एक बड़ा नाम एडमिरल देवेंद्र कुमार जोशी भी हैं। अल्मोड़ा जनपद मुख्यालय से लगभग 35 किलोमीटर दूर दौलाघट लक्ष्मीपुर गांव में जन्मे नौसेना के पूर्व प्रमुख एडमिरल देवेंद्र कुमार जोशी (सेवानिवृत्त) और वर्तमान में अंडमान और निकोबार द्वीप समूह के लेफ्टिनेंट गवर्नर उत्तराखंड युद्ध स्मारक में इसके संरक्षक के रूप में शामिल होने के लिए सहमत हो गए हैं। वार मेमोरियल के चेयरमैन तरुण विजय ने कहा, "यह हम सभी के लिए एक बड़ा सम्मान है और उनकी उपस्थिति और आशीर्वाद हमारे काम को और आगे ले जाएगा और जल्द ही पूरा होगा।" नौसेना प्रमुख एडमिरल करमबीर सिंह ने युद्ध स्मारक के लिए एक नौसेना जहाज की प्रतिकृति भेजने का वादा किया है। सेना प्रमुख के कारगिल भित्ति चित्र और बंदूकें पहले ही प्राप्त हो चुकी हैं और, तनु जैन, सीईओ, कैंटोनमेंट बोर्ड के नेतृत्व में, काम तेजी से प्रगति कर रहा है।

© 2016 All Rights Reserved.
Follow US On: