शनिवार, 25 सितंबर 2021 | 09:25 IST
समर्थन और विरोध केवल विचारों का होना चाहिये किसी व्यक्ति का नहीं!!
होम | खेल | गोल्फ में मेडल लाने से चूक गई अदिति अशोक

गोल्फ में मेडल लाने से चूक गई अदिति अशोक


टोक्यो में चल रहे ओलंपिक गेम्स पर पूरी दुनिया की नजर है।इस बार ओलंपिक में भारत के सबसे ज्यादा खिलाडियों ने भाग लिया है। जिस पर सभी की नजरें टिकी हुई हैं। इस बीच आज गोल्फ ने मेडल लाने से अदिति अशोक चूक गई हैं। लेकिन अब जब ओलंपिक ख़त्म होने की कगार पर था तो भारत की 23 साल की गोल्फ़ खिलाड़ी अदिति ने पदक की उम्मीद जगा दी थी। टोक्यो ओलंपिक में चौथे पायदान पर पहुंचकर उन्होंने इतिहास रच दिया है।
टोक्यो ओलंपिक शुरू होने से पहले जिन खेलों और खिलाड़ियों से पदक की उम्मीद की जा रही थी उसमें गोल्फ और अदिति अशोक का नाम शायद ही किसी ने लिया हो। लेकिन अब जब ओलंपिक ख़त्म होने की कगार पर था तो भारत की 23 साल की गोल्फ़ खिलाड़ी अदिति ने पदक की उम्मीद जगा दी थी। टोक्यो ओलंपिक में चौथे पायदान पर पहुंचकर उन्होंने इतिहास रच दिया है।
साल 2016 में गोल्फ़ को समर ओलंपिक में जगह दी गई जबकि यह इससे पहले 1900 और 1904 में भी ओलंपिक खेलों में शामिल रहा था। भारत की गोल्फ़ में इसे बड़ी छलांग माना जाना चाहिए।
भारतीय गोल्फर अदिति अशोक  का यह दूसरा ओलंपिक है। रियो डि जनेरियो 2016 रियो डि जनेरियो ओलंपिक में वो 41वें स्थान पर थीं। ऐसे में उन्होंने टोक्यो ओलंपिक  में चौथे स्थान पर रहकर इतिहास रच दिया, वो महज एक शॉट से मेडल से चूक गईं, वहीं भारत की दीक्षा डागर को 50वीं पोजीशन मिली। लेकिन अब अदिति के हारते ही ओलंपिक में गोल्फ में भारत के मेडल लाने की उम्मीद भी टूट गई है।



© 2016 All Rights Reserved.
Follow US On: