सोमवार, 24 फ़रवरी 2020 | 07:48 IST
समर्थन और विरोध केवल विचारों का होना चाहिये किसी व्यक्ति का नहीं!!
भारत बना रहा है नेवी के लिए नई हाईटेक क्रूज मिसाइल, जद में होगा पाकिस्‍तान          भारतीयों के स्विस खातों, काले धन के बारे में जानकारी देने से वित्त मंत्रालय ने किया इंकार          पीएम की कांग्रेस को खुली चुनौती,अगर साहस है तो ऐलान करें,पाकिस्तान के सभी नागरिकों को देंगे नागरिकता          नागरिकता संशोधन कानून पर जारी विरोध के बीच पीएम मोदी ने लोगों से बांटने वालों से दूर रहने की अपील की है          भारतीय संसद का ऐतिहासिक फैसला,सांसदों ने सर्वसम्मति से लिया फैसला,कैंटीन में मिलने वाली खाद्य सब्सिडी को छोड़ देंगे           60 साल की उम्र में सेवानिवृत्त करने पर फिलहाल सरकार का कोई विचार नहीं- जितेंद्र सिंह          मोदी सरकार का बड़ा फैसला, दिल्ली की अवैध कॉलोनियां होगी नियमित          पीओके से आए 5300 कश्मीरियों के लिए मोदी सरकार का बड़ा ऐलान, मिलेंगे साढ़े पांच लाख रुपये          पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने कबूल किया कि उनका देश कश्मीर मुद्दे का अंतरराष्ट्रीयकरण करने की कोशिशों में नाकाम रहा          संयुक्‍त राष्‍ट्र ने भी माना,जलवायु परिवर्तन से निपटने में अहम है भारत की भूमिका          बैंकों और बीमा कंपनियों में लावारिस पड़े हैं 32,000 करोड़ से भी ज्यादा पैसे, नहीं है कोई दावेदार         
होम | देश | पतंजलि के सीईओ आचार्य बालकृष्ण को एम्स ऋषिकेश से किया डिस्चार्ज

पतंजलि के सीईओ आचार्य बालकृष्ण को एम्स ऋषिकेश से किया डिस्चार्ज


पतंजलि के सीईओ आचार्य बालकृष्ण को एम्स ऋषिकेश ने डिस्चार्ज कर दिया है। आचार्य को संदिग्ध पदार्थ खाने की वजह से तबीयत बिगड़ गई थी। जिसके बाद उन्हें ऋषिकेश एम्स में भर्ती किया गया था। बालकृष्ण की हालत में सुधार होने के बाद डॉक्टर ने उन्हें डिस्चार्ज कर दिया है। आचार्य बालकृष्ण डिस्चार्ज होने के बाद हरिद्वार आने की इच्छा जताई थी। जिसके बाद आचार्य को हरिद्वार के दादू बाग आश्रम में लाया गया है। जहां उनके साथ बाबा रामदेव भी मौजूद है।

आपको बता दें कि एम्स ऋषिकेश के क्रिटिकल केयर यूनिट में चिकित्सकों की निगरानी में उपचाराधीन आचार्य बालकृष्ण की कुशलक्षेम जानने के लिए मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत,पूर्व सीएम भगत सिंह कोश्यारी समेत कई लोग पहुंचे थे। इस दौरान उन्होंने संस्थान के आईसीयू में भर्ती आचार्य का हालचाल जाना व संस्थान के निदेशक पद्मश्री प्रोफेसर रवि कांत ने आचार्य बालकृष्ण को दिए जा रहे उपचार के बारे में जानकारी हासिल की थी। इस दौरान सीएम रावत ने संस्थान में मरीजों को उपलब्ध कराई जा रही विश्वस्तरीय स्वास्थ्य सेवाओं की सराहना की। संस्थान से विशेषज्ञ चिकित्सकों से जांच के बाद आचार्य बालकृष्ण को आज छुट्टी दे दी गई है।                                                                                                                                                                                                             एम्स में भर्ती पतंजलि योगपीठ के महामंत्री आचार्य बालकृष्ण के स्वास्थ्य संबंधी जानकारी लेने के लिए शनिवार को भी दिनभर कई बड़ी हस्तियों का आना-जाना लगा रहा। इस दौरान मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत समेत कई लोगों ने एम्स पहुंचकर उनका हालचाल जाना और ईश्वर से उनके शीघ्र स्वस्थ होने की कामना की। इस दौरान सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत ने एम्स के आईसीयू व प्राइवेट वार्ड का निरीक्षण किया।                                                   इस दौरान एम्स निदेशक पद्मश्री प्रो. रवि कांत ने मुख्यमंत्री रावत को बताया कि  आचार्य बालकृष्ण का उपचार विभिन्न विभागों के विशेषज्ञ चिकित्सकों के पैनल की निगरानी में किया जा रहा था। जिसमें मेडिकल सुपरिटेंडेंट डा. ब्रह्मप्रकाश, डीन एकेडमिक प्रो. सुरेखा किशोर,डीन स्टूडेंट्स वैलफेयर प्रो. मनोज गुप्ता,डीन प्रोटोकॉल प्रो. ब्रिजेंद्र सिंह,डा. वीके बस्तिया, डा. नीरज कुमार,डा. अंकित अग्रवाल,डा. उमेद,डा. गौरव, डा. बलराम जीओमर, डा. सुबोध कुमार समेत 50 से अधिक चिकित्सक शामिल थे। निदेशक प्रो. रवि कांत ने बताया कि आचार्य पूरी तरह से स्वस्थ हैं और सामान्यतौर पर बातचीत कर रहे हैं। शनिवार शाम को न्यूरोलॉजिस्ट, कार्डियोलॉजिस्ट व क्रिटिकल केयर स्पेशलिस्ट से परीक्षण किया और सभी चीजें सामान्य पाए जाने पर उन्हें एम्स अस्पताल से आज शाम को छुट्टी दे दी गई है।    निदेशक पद्मश्री प्रो. रवि कांत ने बताया कि संस्थान मरीजों को वर्ल्ड क्लास स्वास्थ्य सुविधाएं मुहैया कराने को प्रतिबद्ध है और इस दिशा में सतत प्रयास जारी हैं,जिससे उत्तराखंड व समीपवर्ती प्रदेशों के मरीजों को उपचार के लिए दिल्ली व चंडीगढ़ आदि महानगरों में नहीं जाना पड़े। इस दौरान मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने एम्स संस्थान में मरीजों को उपलब्ध कराई जा रही स्वास्थ्य सुविधाओं और सुविधाओं में लगातार की जा रही बढ़ोत्तरी पर एम्स प्रशासन की सराहना की। उन्होंने एम्स को उत्तराखंड के लिए वरदान बताया। इस दौरान आचार्य बालकृष्ण के स्वास्थ्य संबंधी जानकारी प्राप्त करने के लिए पतंजलि योगपीठ के प्रमुख बाबा रामदेव, परमार्थ निकेतन के परमाध्यक्ष स्वामी चिदानंद सरस्वती मुनि, स्वामी अवधेशानंद महाराज, सांसद माला राज्यलक्ष्मी शाह, पूर्व मुख्यमंत्री भगत सिंह कोश्यारी, विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचंद अग्रवाल, शिक्षा मंत्री अरविंद पांडेय, शहरी विकास मंत्री मदन कौशिक,ऋषिकेश की महापौर अनीता ममगाईं, दरजाधारी राज्यमंत्री कृष्ण कुमार सिंघल आदि एम्स ऋषिकेश पहुंचे।



© 2016 All Rights Reserved.
Follow US On: