मंगलवार, 24 मई 2022 | 02:39 IST
समर्थन और विरोध केवल विचारों का होना चाहिये किसी व्यक्ति का नहीं!!
30 जून से शुरू होगी अमरनाथ यात्रा          शंघाई मिले कोरोना का एक दिन में 23,000 से ज्‍यादा नए मामले          रूस ने भारत को दिए एस-400 मिसाइल सिस्टम के पार्ट्स          कर्नाटक हाईकोर्ट का हिजाब विवाद पर बड़ा फैसला,हिजाब इस्लाम का हिस्सा नहीं          सीबीएसई की 10वीं की परीक्षाएं 26 अप्रैल से 24 मई तक, 12वीं की परीक्षाएं 26 अप्रैल से 15 जून तक आयोजित की जाएगी          केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड ने जारी की टर्म 2 परीक्षा के लिए 10वीं और 12वीं की डेटशीट          आरबीआई ने पेटीएम पेमेंट्स बैंक को नए ग्राहक जोड़ने से रोका, आईटी ऑडिट का भी दिया आदेश          8 मई को खुलेंगे श्री बदरीनाथ धाम के कपाट          कांग्रेस दफ्तरों में होगी सीडीएस जनरल बिपिन सिंह रावत और जनरल जोशी की फोटो         
होम | उत्तराखंड | 9 लाख का पिज्जा

9 लाख का पिज्जा


शाकाहारी पिज्जा आर्डर करने पर मांसाहारी पिज्जा की डिलीवरी करने के मामले में जिला उपभोक्ता विवाद प्रतितोष आयोग ने डोमिनोज पिज्जा पर 9 लाख 65 हजार 918 रुपये का हर्जाना लगाया है। साथ ही इससे उपभोक्ता की धार्मिक भावना आहत करने का मामला बताया। मामला वर्ष 2020 का है। मामला...रड़की का है। रुड़की के साकेत कालोनी निवासी शिवांग मित्तल ने 26 अक्टूबर 2020 को शाम साढ़े आठ बजे आनलाइन पिज्जा टाको और चोको लावा केके लिए आर्डर किया।

 

डोमिनोज पिज्जा का कर्मचारी उक्त पैकेट लेकर आया। उन्होंने शाकाहरी पिज्जा की 918 रुपये की कीमत भी अदा कर दी। इसके बाद उन्होंने पैकेट को खोला तो उसमें अजीब सी गंद आ रही थी। इसके बाद शिवांग को उल्टियां होनी शुरू हो गई। उनकी हालत खराब हो गई।

शिवांग मित्तल ने बताया कि उनके परिवार में कोई मांसाहारी नहीं है। पूरा परिवार परेशान हो गया। कंपनी की ओर से मांसाहारी पिज्जा भेजकर उनका धर्म भ्रष्ट किया गया। इससे परिवार की भावना आहत हुई है।

उन्होंने इस संबंध में तीन फरवरी 2021 को  जिला उपभोक्ता विवाद प्रतितोष आयोग में शिकायत दर्ज कराई। आयोग ने दोनों पक्षों को सुनने के बाद पाया कि पिज्जा कंपनी की ओर से शाकाहारी पिज्जा आर्डर करने पर भी मांसाहारी पिज्जा भेज गया। जो उपभोक्ता सेवा में घोर लापरवाही है। जिसके कारण उन पर जुर्माना लगा दिया।

 

 



© 2016 All Rights Reserved.
Follow US On: