बृहस्पतिवार, 23 नवंबर 2017 | 10:47 IST
दूसरों की बुराई देखना और सुनना ही बुरा बनने की शुरुआत है।
होम | क्राइम | जेल में बाबा की हनी को VIP ट्रीटमेंट क्यों?

जेल में बाबा की हनी को VIP ट्रीटमेंट क्यों?


दुष्कर्मी बाबा गुरमीत राम रहीम जेल में मजदूरी करके पेट पाल रहा है, लेकिन दूसरी तरफ बाबा की हनी जेल में वीआईपी ट्रीटमेंट के मज़े ले रही है। इसका खुलासा तब हुआ, जब हनीप्रीत के घरवाले उससे मिलने जेल पहुंचे। हनी के परिवारवाले मेन गेट से सीधे हनी की जेल की में दाखिल हो गये और उन्हें किसी ने रोक-टोका तक नहीं। इस दौरान हनीप्रीत के परिजनों को वीआईपी ट्रीटमेंट देने में अधिकारी इतने व्यस्त हो गए कि जमानतियों को समय पर रिहा करना ही भूल गए। इस पर बंदियों और कैदियों के परिजनों ने जेल प्रशासन पर लापरवाही का आरोप लगाया।

ब़हस्पतिवार शाम हनीप्रीत के भाई साहिल तनेजा, भाभी सोनाली, जीजा संचित बजाज और बहन निशू बजाज सेंट्रल जेल आए। करीब पौने दो घंटे की मुलाकात के बाद परिजन शाम छह बजे वापस रवाना हुए। वहीं, इससे पहले गुरुग्राम नंबर की गाड़ी उन्हें जेल के मुख्य प्रवेश द्वार से अंदर परिसर तक छोड़कर बाहर आ गई और करीब छह बजे दोबारा उन्हें लेने के लिए भीतर चली गई। इस अवधि में चारदीवारी के मेन गेट पर मौजूद जेलकर्मी सहित किसी भी अधिकारी ने न तो गाड़ी रोकी और न कोई पूछताछ ही की। हनी के परिवारवालों के पास चार बैग भी थे, लेकिन इस दौरान अंबाला सेंट्रल जेल के मुलाकाती कक्ष के शीशे से भाई-बहन को देख हनीप्रीत भावुक हो गई और फूट-फट कर रोने लगी। हनीप्रीत को रोते देखकर भाई-बहन ने उसे ढाढस बंधाया और टेंशन न लेने के बात कही। साथ ही हालातों का मजबूती से सामना करने को भी कहा। उन्होंने हनी को जल्द ही जेल से बाहर निकलवाने का आश्वासन दिया। अब देखना होगा कि हनीप्रीत को दिये आश्वासन को परिवारवाले कितने वक्त में पूरा करते हैं 



© 2016 All Rights Reserved.
Follow US On: