शनिवार, 18 नवंबर 2017 | 11:57 IST
दूसरों की बुराई देखना और सुनना ही बुरा बनने की शुरुआत है।
होम | देश | राम रहीम पर क्यों आया खट्टर सरकार का दिल?

राम रहीम पर क्यों आया खट्टर सरकार का दिल?


दुष्कर्मी बाबा राम रहीम को लेकर बड़ा खुलासा हुआ है, जिससे हरियाणा  सरकार पर सवाल उठने लगे हैं। आपको जानकर हैरानी होगी कि जिस दुष्कर्मी बाबा राम रहीम को लेकर इतना विवाद खड़ा हुआ, उसे सुनारिया जेले में वीवीआईपी ट्रीटमेंट मिल रहा है। राम रहीम को अदालत ने साध्वियों से रेप का दोषी माना, लेकिन हरियाणा सरकार शायद उसे अभी भी पुराना राम रहीम ही मान रही है। जेल में राम रहीम की जिंदगी आम कैदियों से अलग है, उसे अलग बैरक दिया गया है साथ ही खाना भी बाकी कैदियों से बेहतर दिया जाता है। 

 

 

राम रहीम को लेकर यह खुलासा जेल से बाहर आए एक कैदी राहुल जैन ने किया है, जिसमें उसने बताया कि वह कभी भी जेल में मजदूरी नहीं करता। पहले हरियाणा पुलिस ने दावा किया था कि राम रहीम से जेल में सब्जियां उगवाई जाएंगी, उसे 20 रुपए दिहाड़ी मजदूरी मिलेगी, लेकिन पुलिस की यह कहानी फर्जी साबित हो रही है। जेल से बाहर आए कैदी की मानें, तो जेल में बाबा राम रहीम सब्जी नहीं मौज काट रहा है, जिसे रोटी और दाल मिलना चाहिए थी उसके लिए स्पेशल गाड़ी से टिफिनबंद भोजन आता है।

 

 

इसके अलावा जेल में बंद राम रहीन न तो खाने के लिए लाइन में लगता है और न झूठे बर्तन ही धोता है। यही नहीं, जेल में उसके लिए टिफिन बंद पकवान आते हैं, जिन्हें खाने के बाद वो जेल में चैन की नींद सोता है। जेल  में भी उसे स्पेशल बैरक और बिस्तर दिए गए हैं और सुनने में तो ये भी आया है कि खट्टर सरकार ने राम रहीम के लिए सुनरिया जेल में एक और डेरा तैयार कर दिया है। सरकार की ओर से राम रहीम को रिश्तेदारों से मन भर मुलाकात करने की भी छूट भी दी गई है। जिस तरह से राम रहीम को ये ट्रीटमेंट दिया जा रहा है वो वाकई में बीजेपी सरकार पर सवाल खड़ा करता है, जिसके बाद ये देखना काफी दिलचेसप होगा कि खाट्टर सरकार इस आरोप से पल्ला कैसे झाड़ती है। 



© 2016 All Rights Reserved.
Follow US On: