शनिवार, 18 नवंबर 2017 | 11:40 IST
दूसरों की बुराई देखना और सुनना ही बुरा बनने की शुरुआत है।
होम | खेल | धोनी की बैटिंग पर दादा ने क्यों उठाए सवाल?

धोनी की बैटिंग पर दादा ने क्यों उठाए सवाल?


धोनी को लेकर आए दिन सवाल उठते रहते हैं। ऐसे ही सवाल टीम इंडिया के पूर्व कप्तान और विकेटकीपर बल्लेबाज एमएस धोनी के टी-20 फॉर्मेट में धीमे प्रदर्शन पर उठे हैं। दरअसल, बीतें दिनों न्यूजीलैंड के खिलाफ खेले गए टी-20 मुकाबले में धोनी की धीमी बेटिंग को लेकर उनकी कड़ी आलोचना हुई थी, जिस पर वीवीएस लक्ष्मण और अजित अगरकर के अलावा अन्य पूर्व क्रिकेटरों ने भी धोनी के टी-20 के भविष्य पर सवाल उठाए थे।

 


 
वहीं, अब भारतीय टीम के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली ने भी धोनी को सलाह दी है। उन्होंने कहा कि “धोनी को टी-20 अंतरराष्ट्रीय मैचों के प्रति 'अलग' रवैया अपनाने की जरुरत है, क्योंकि एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय की तुलना में धोनी का टी-20 अंतरराष्ट्रीय रिकॉर्ड उतना अच्छा नहीं है। उम्मीद करते हैं कि कोहली और टीम प्रबंधन उनसे अलग से बात करेगा। उसमें काफी क्षमता है और टी-20 अंतरराष्ट्रीय के प्रति रवैया बदलने पर धोनी फिर सफल हो सकते हैं।”

 


 
हालांकि,  गांगुली का मानना है कि "धोनी में काफी क्रिकेट बचा है। विशेषकर एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैचों में"। उन्होंने कहा, “मुझे लगता है कि उसे एकदिवसीय क्रिकेट खेलना जारी रखना चाहिए, लेकिन उसे टी-20 अंतरराष्ट्रीय अलग तरह से खेलना होगा। यह चयनकर्ताओं पर निर्भर करता है कि धोनी कैसे खेलें"। धोनी के खेल पर सवाल उठाने वालों पर कोहली ने नाराजगी जताई थी, जिसके बाद अब ये वक्त ही बताएगा की, दादा की इस सलाह पर कोहली का क्या रिएक्शन होता है।

 



© 2016 All Rights Reserved.
Follow US On: