शनिवार, 18 नवंबर 2017 | 11:38 IST
दूसरों की बुराई देखना और सुनना ही बुरा बनने की शुरुआत है।
होम | खेल | क्या है घरेलू टीम में इरफान की नो-एंट्री का सच?

क्या है घरेलू टीम में इरफान की नो-एंट्री का सच?


भारतीय क्रिकेट टीम में कमबैक की राह देख रहे इरफान पठान के सपने एक बार फिर तार-तार होते दिख रहे हैं। बड़ौदा की रणजी ट्राफी टीम की कप्तानी छीनकर जहां टीम मेंबरों ने इरफान को बड़ा झटका दिया था, तो वहीं, घरेलू टीम में भी टीम प्रशासकों ने इरफान की एंट्री पर रोक लगा दी। जी हां, रणजी ट्राफी के दो राउंड खत्म होने के बाद इरफान को बड़ौदा क्रिकेट टीम की कप्तानी और तीसरे राउंड के मैच के लिए त्रिपुरा के खिलाफ 15 सदस्यीय टीम से भी बाहर का रास्ता दिखाया गया, जिसको लेकर इरफान ने आज खिलाफ टीम प्रशासकों के खिलाफ गुस्सा जाहिर किया। 


आपको बता दें कि बड़ौदा टीम ग्रुप सी में शामिल है, जिसका पिछले मैचों में प्रदर्शन काफी निराशाजनक रहा है और बड़ौदा टीम खिसककर ग्रुप में आखिरी पायदान पर आ गई। बुधवार से शुरू हुए तीसरे दौर के मैच के लिए बड़ौदा की कप्तानी ऑलराउंडर दीपक हुड्डा करेंगे। बड़ौदा के सीनियर और अंतर्राष्ट्रीय खिलाड़ी इरफान ने टीम प्रशासन के फैसले को लेकर सार्वजनिक तौर पर गुस्सा जाहिर किया है। उन्होंने ट्विटर पर लिखा कि “जो लोग अपने बॉस के सामने हां नहीं करते और उन्हें सुबह गुड मॉर्निंग नहीं कहते उनके बॉस उनके खिलाफ जाते हैं, लेकिन आप अपना करते रहिए”। भले ही इरफान राष्ट्रीय टीम से लंबे अर्से से बाहर हैं, लेकिन घरेलू टीम से उन्हें बाहर का रास्ता दिखाए जाने पर समर्थकों ने नाराज़गी जताकर पूरा समर्थन किया है। 



© 2016 All Rights Reserved.
Follow US On: