बृहस्पतिवार, 21 जून 2018 | 06:14 IST
समर्थन और विरोध केवल विचारों का होना चाहिये किसी व्यक्ति का नहीं!!
होम | देश | सलाखों के पीछे करेगा मजदूरी

सलाखों के पीछे करेगा मजदूरी


नाबालिग से दुष्कर्म करने की सजा आखिरकार आसाराम को मिल ही गई..अब रामा रा म जेल की रोटी और जेल का पानी पियएगा इसके साथा ही आसाराम को ब ए एक औ र ऩबी पहचान मिल गई है और वो हा कैदी नंबर 130 इसके साथ ही मुजरिम करार होने के बाद अब आसाराम को आश्रम का खाना नहीं मिलेगा। और कैदियों की तरह अब उसे जेल का खाना खाना पड़ेगा इस वक्त आसाराम शाम के वक्त खाना खाने की जगह सिर्फ दूध पीता है आसाराम के साथ उसका सेवादार शरदचंद्र भी दोषी करार हुआ है, उसे कैदी नंबर129 के रूप में पहचाना जाएगा और अबदिष्कर्मी बाब आसाराम की सेवा भी की नही करेगा अभई तक जेल में जमकर सेवा करानै वेला हबाबा अब जेल में मजदूरी करेगा क्योकि आसाराम को की ऐसा काम नहीं ता है जिसे उसे दिया जाये इसीलिये अब वो जेल में मजदूरी करेगा इसके साथ ही 80 साल के आसाराम से जेल-प्रशासन पेड़-पौधों को पानी देने का काम कराने की सोच रहा है। आसाराम को ऐसे ही हल्के-फुल्के काम दिए जा सकते हैं। क्योंकि जेल मैन्युअल के मुताबिक 70 साल या अधिक के पुरुष कैदियों से श्रम नहीं कराया जा सकता..इसीलिये वो छोटी मोटी खआंस  निकालेगा..और पेड़पौधों को पानी देगा  जब से आशाराम को उम्रे कैद की सजा हुई है तब से वो जेल में गुमसुम बैठा है और किसी से बात भई नही कर रहा है इसके साथ ही तकल रकी  रात उसकी बहुत ही बैचैनी से कटी

 



© 2016 All Rights Reserved.
Follow US On: