शुक्रवार, 15 दिसम्बर 2017 | 01:53 IST
दूसरों की बुराई देखना और सुनना ही बुरा बनने की शुरुआत है।
होम | सेहत | कोल्‍ड और कफ से ग्रस्‍त व्यक्ति, रात में दही सेवन से रहे वर्जित

कोल्‍ड और कफ से ग्रस्‍त व्यक्ति, रात में दही सेवन से रहे वर्जित


ज्यादातर आपने सुना होगा कि रात में दही नहीं खानी चाहिए। रात में दही खाना स्‍वास्‍थ्‍य के लिए नुकसानदायक है। जिन लोगों को दूध पसंद नहीं होता वे, अक्सरदही खाना पसन्द करते है। वास्‍तव मेंगुड बैक्‍टीरिया से भरपूर दही पेट के लिए बहुत अच्‍छी चीज होती है। आमतौर पर खराब खानापान के कारण पेट से गुड बैक्‍टीरिया का संतुलन बिगड़ जाता है। दही गुड बैक्‍टीरिया को बनाए रखने और पाचन में सुधार के लिए बेहतर स्‍त्रोत है।  आयुर्वेद के अनुसारदही को कफ पैदा करने के लिए जाना जाता है। रात के समय म्यूकस के कारण कफ बनता है। इसलिए आयुर्वेद के अनुसाररात को दही नहीं खानी चाहिए। कोल्‍ड और कफ से ग्रस्‍त लोगों को रात को दही के सेवन से बचना चाहिए। हालांकि जिन लोगों को कफ संबंधी कोई परेशानी नहीं हैवो रात के समय दही और छाछ का सेवन कर सकते हैं। दही के अन्‍य फायदे भी हैं। ये आपके दांतों और हड्डियों के लिए सही होती है और सुबह में सूजन जैसी समस्‍या से बचाने में सहायक होती है।  डिनर के बाद दही खाने से पेट शांत रखने में मदद मिलती है। छाछ- ये रात को खाने के बाद पिये जाने वाला अच्‍छा पेय पदार्थ है। ये आपके पेट को ठंडा रखने के साथ-साथ बैक्‍टीरिया बदलने में भी सहायक होता है। लस्‍सी- लस्‍सी छाछ का ही मीठा वर्जन है। ये टेस्‍टी होने के साथ-साथ फायदेमंद भी होती है। कढ़ी- इसे बेसननमक और छाछ के मिश्रण से तैयार किया जाता है। आप इसमें थोड़ी मिर्चकड़ी पत्‍ता और जीरा भी मिला सकते हैं। रायता- रायता खाने में स्‍वादिष्‍ट होता है। इसे और ज्‍यादा स्‍वादिष्‍ट बनाने के लिए इसमें प्‍याजटमाटरखीरालौकी और हरी मिर्च काटकर डाल सकते हैं। 



© 2016 All Rights Reserved.
Follow US On: