शुक्रवार, 25 मई 2018 | 06:34 IST
समर्थन और विरोध केवल विचारों का होना चाहिये किसी व्यक्ति का नहीं!!
होम | उत्तराखंड | इस परिवार पर टूटा दुखों का पहाड़ मातम में बदली बसंत की खुशियां

इस परिवार पर टूटा दुखों का पहाड़ मातम में बदली बसंत की खुशियां


उत्तराखंड के चंदोऊ गांव में एक ऐसा हादसा हुआ है जिससे पूरे गांव में मातम पसरा हुआ है। जी हां माघ की खुशियों से पहले ही एक मां से उसका दो साल का जिगर का टुकड़ा छिन गया। वजह भी ऐसी जो मां को जिंदगीभर परेशान करती रहेगी। जानकारी के अनुसार चंदोऊ गांव निवासी दलिप सिंह रविवार को अपने दो वर्षीय पोते लक्ष्य को सुबह करीब 11 बजे छुआरा खिला रहे थे। 

अचानक बच्चे के गले में छुआरा फंस गया। जिससे बच्चे की सांस फूलने लगी। पोते की ऐसी हालत देखकर दादा के हाथ पांव फूल गये उसने तुरंत अपने बेटे को फोन लगाया पोते की तबियत बढती ही जा रही थी। बच्चे के पिता विवेक और ताऊ कुंदन आनन-फानन में परिजन बच्चे को लेकर साहिया स्थित प्राइवेट अस्पताल में पहुंचे।

 

लेकिन वहां भी बच्चे की गंभीर हालत को देखते हुए चिकित्सक ने उसे हायर सेंटर ले जाने की सलाह दी। लेकिन शायद किस्मत को कुछ और ही मंजूर थी परिजन उसे लेकर हरबर्टपुर स्थित लेहमन अस्पताल पहुंचे जहां उपचार के दौरान बच्चे ने दम तोड़ दिया। इसी घटना से पूरे गांव में शोक  की लहर दौड़ गयी। वहीं परिवार वालो का रो रोकर बुरा हाल है। सबसे दुख की बात ये बच्चा अपने मां-बाप का इकलौता बेटा था। उसके बाद उसकी एक बड़ी बहन भी है। 



© 2016 All Rights Reserved.
Follow US On: