शनिवार, 21 अक्टूबर 2017 | 06:54 IST
दूसरों की बुराई देखना और सुनना ही बुरा बनने की शुरुआत है।
होम | देश | आधुनिक चिकित्सा के क्षेत्र में प्रगति और स्वास्थ्य क्षेत्र में निवेश

आधुनिक चिकित्सा के क्षेत्र में प्रगति और स्वास्थ्य क्षेत्र में निवेश


राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने रविवार को उडुपी, कर्नाटक में बीआरएस हेल्थ रिसर्च इंस्टिट्यूट के सुपर स्पेंशॅल्टी हॉस्पीटल की आधार शिला रखी। दरअसल शिला रखने के अवसर पर उन्होंने कहा है कि आधुनिक चिकित्सा  के क्षेत्र में प्रगति और स्वास्थ्य क्षेत्र में निवेश की बदौलत हम हैजा, चेचक, प्लेग, क्षयरोग आदि अनेक बीमारियों के उपचार और उन्मूलन में उल्लेखनीय उपलब्धियां हासिल की हैं।देखभाल तक पहुंच के संदर्भ में भारी अंतराल है। हालांकि राष्ट्रपति के मुताबिक है कि प्रति एक हजार आबादी पर एक डॉक्टर और के अंतर्राष्ट्रीय मानदंड की तुलना में भारत में प्रति 1700 लोगों पर एक डॉक्टर की व्यवस्था है। दरअसल  फिर भी देश में औषधियों और स्वास्थ्य   उन्होंने कहा कि भारत के भीतरी क्षेत्र के गांवों में स्वास्थ्य देखभाल सुविधाओं की स्थिति और भी चिंताजनक है। 



© 2016 All Rights Reserved.
Follow US On: