मंगलवार, 24 अप्रैल 2018 | 02:20 IST
समर्थन और विरोध केवल विचारों का होना चाहिये किसी व्यक्ति का नहीं!!
होम | उत्तराखंड | उत्तराखंड में बर्फबारी से परियोजनाओं पर बुरा असर

उत्तराखंड में बर्फबारी से परियोजनाओं पर बुरा असर


उत्तराखंड में हिमस्खलन के साथ-साथ बर्फबारी ने विकास की परियोजनाओं को पूरी तरह ठप्प होती नजर आई। वही दूसरी ओर उत्तराखंड के रास्तों में जमी बर्फ ने विकास के लिए चलाई गई परियोजनाओं को परी तरह जमा दिया है। जानकारी के मुताबिक, केदारनाथ में गत मंगलवार को हुई बर्फबारी के बाद बुधवार को मौसम साफ रहा, लेकिन तीन फीट बर्फ जमने के कारण रास्तों से बर्फ हटाने के काम में ही निम के मजदूर जुटे रहे, वहीं बर्फबारी के बाद पुनर्निर्माण के कार्य की रफ्तार कम हो गई है।

जानकारी के मुताबिक, केदारनाथ में पांच बड़ी परियोजनाओं पर कार्य चल रहा है, इसे यात्रा सीजन शुरू होने से पहले ही पूरा होना है। इसके लिए कार्य भी युद्ध स्तर पर चल रहा था, लेकिन गत दिवस बर्फबारी होने से पूरी तरह कार्य प्रभावित हो गए हैं। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने जिन पांच परियोजनाओ की नीव गत अक्टूबर महीने में रखी थी, इन सभी कार्यो को आने वाले यात्रा सीजन से पूर्व बन कर तैयार होना है।

इसमें केदारनाथ मंदिर के ठीक सामने वाले पैदल मार्ग का निर्माण कार्य, रामबाड़ा से गरुड़चट्टी होते हुए पैदल मार्ग का निर्माण, मंदिर के पीछे सौंदर्यीकरण समेत कई कार्य होने हैं, जिसमें से प्रशासन ने मंदिर के सामने पैदल मार्ग का कार्य युद्ध स्तर पर शुरू कर समतलीकरण का कार्य पूरा कर लिया था। अब बर्फबारी होने के बाद कार्य में व्यवधान आया है। वही दूसरी ओर रुद्रप्रयाग के डीएम ने बताया कि केदारनाथ में पैदल रास्तों व निर्माण कार्य स्थलों से बर्फ हटाई जा रही है, ताकि उन स्थानों पर कार्य किया जा सके, साथ ही अन्य कार्य जो भवनों के अंदर किए जा सकते हैं वह किए जा रहे हैं, निर्माण कार्यो को समय से पूरा करने का पूरा प्रयास किया जाएगा।



© 2016 All Rights Reserved.
Follow US On: