शनिवार, 21 अक्टूबर 2017 | 06:56 IST
दूसरों की बुराई देखना और सुनना ही बुरा बनने की शुरुआत है।
होम | साहित्य | फ्योंली दास स्टीफन फ्योल समर्पित रचना

फ्योंली दास स्टीफन फ्योल समर्पित रचना


फ्योंली दास स्टीफन फ्योल समर्पित रचना जोग ##
 
जै ढोल दमौ कु 
हमुन नि जाणी क्वी मोल 
देखादी कन्नु भलु बजाणु 
अमरिका कु स्टीफन फ्योल 
गौं  का गौं हवे ग्येनि खाली 
हमरि सग्वाडी  मा कन्नी भली 
साग भुज्जी उगौणा नैपली 
सरि दुन्यै नजर चा 
ये हिमालय पर 
क्वी बिजली क्वी पाणी 
क्वी जड़ी बुटी खोदी कमाणु चा 
सब्बी खिस्सी इख बिटि भरणी चा 
पर जोग देखा पाड़यु कु 
कमाणु ग्यां भैर उन्द ।.........शैलेन्द्र जोशी


© 2016 All Rights Reserved.
Follow US On: