सोमवार, 10 दिसम्बर 2018 | 05:26 IST
समर्थन और विरोध केवल विचारों का होना चाहिये किसी व्यक्ति का नहीं!!
होम | देश | एटीएम से कैश के लिए तरसी जनता

एटीएम से कैश के लिए तरसी जनता


8 नंबर की वो दिन दिन शायद ही  कोई भू ला होगा..जब पूरा देश नोटबंदी के चलते केश लेश हो गया था एटीएम और बैंक के बाहर लंबी –लंबी कतारे लगी हुई थी आज एक बार एक बार से देश में नोटबंदी जै से हालत पैदा हो गये हैं जी हां आद देश के कई राज्यों में में कैंश की किलत हो गई है ऐसे हालात देश में 16 महीने बाद फिर से नजर आ रहे हैं, लेकिन इस बार इसकी वजह नोटबंदी नहीं बल्कि कैश की कमी होना है आए य आपको बतात है अचानक क्यो हुई केश की कमी 

1............आरबीआई ने कैश की कमी की वजह बताते हुए कहा है कि कुछ औरदेश के कई राज्यों में पिछले कुछ दिनों से ये समस्या देखने को मिल रही है कि एटीएम में लोगों को कैश नहीं मिल पा रहा है, जिसकी वजह से एक बार फिर नोटबंदी जैसा माहौल बन रहा है

2........लोगों की बढ़ती परेशानी को देखते हुए आखिरकार रिजर्व बैंक और सरकार को आगे आना पड़ा। रिजर्व बैंक के सूत्रों का कहना है कि अब अर्थव्यवस्था में नकदी की हालत नोटबंदी के पहले वाले दौर से भी बेहतर है, ऐसे में इस संकट की वजह दूसरी है 

3........जिन राज्यों में कैश की कमी नजर आ रही है, वहां के लिए आरबीआई ने कैश की कमी को पूरा करने के लिए कई अहम कदम उठाए हैं। इसके बाद अब आरबीआई ने उम्मीद जताई है कि जल्दी ही हालात सामान्य हो जाएंगे। रिजर्व बैंक के सूत्रों का कहना है कि असम, आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, कर्नाटक, महाराष्ट्र, राजस्थान, उत्तर प्रदेश,

4.............वही मोदी सरकार का कहना है कि  कई राज्यों में बैसाखी, बिहू और सौर नव वर्ष जैसे त्योहार होने की वजह से लोगों को ज्यादा नकदी की जरूरत थी। तो वहीं कर्नाटक में चुनाव करीब हैं, इसलिए वहां भी नकदी की मांग काफी बढ़ गई है इसक साथ ही सरकार का कहना है कि..इन दिनों किसान अपनी फसल बैच रहे ह..जिसके कारण पैकों तक ज्याद यूज हो ह है..और केश की कमी हो गई है...

5.......रिजर्व बैंक के सूत्रों का कहना है कि असम, आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, कर्नाटक, महाराष्ट्र, राजस्थान, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश आदि राज्यों में लोगों के जरूरत से ज्यादा नकदी निकालने की वजह से यह संकट खड़ा हुआ है

 



© 2016 All Rights Reserved.
Follow US On: