बृहस्पतिवार, 23 नवंबर 2017 | 10:47 IST
दूसरों की बुराई देखना और सुनना ही बुरा बनने की शुरुआत है।
होम | क्राइम | ‘योग’ सिखाना छोड़ो या नाम बदलो ‘राफिया नाज’

‘योग’ सिखाना छोड़ो या नाम बदलो ‘राफिया नाज’


मौजूदा वक्त में योग सिर्फ भारत ही नहीं, बल्कि पूरी दुनिया में किया जा रहा है, क्योंकि हर शख्स योग के बड़े फायदें से परिचित हैं, लेकिन जहां पूरी दुनिया योग को एक फायदे के तौर पर देखती है, तो वहीं हमारे देश में इसे धर्म से जोड़कर देखा जाता है, जिस पर कई विवाद भी हो चुके हैं। 

 

 

योग का विरोध यूं तो मुल्ला-मौलवियों के साथ कई मुस्लिम करते हुए देखे जाते हैं, लेकिन इस बार योग से जुड़ी जो खबर आई है वो गंदी सोच और कट्टरता से भरी हुई हैं। आपको बता दें कि झारखंड में योग सिखाना एक मुस्लिम लड़की को इतना भारी पड़ा की, उसकी जान खतरे में पड़ गई और बाद में झारखंड की तरफ सुरक्षा दी गई। 

 

 

झारखंड में योग सिखाने वाली प्रसिद्ध मुस्लिम लड़की का नाम राफिया नाज़ है, जिसे उसके ही समुदाय के कुछ लोगों ने जान से मारने की धमकी दी है, जिसके बाद प्रशासन ने उसकी सुरक्षा बढ़ाने का फैसला किया है। मंगलवार को सामने आई रिपोर्ट्स के अनुसार, लड़की को उसके ही समुदाय के लोगों से धमकियां मिली हैं। इन धमकियों में उसे योग नहीं सिखाने और नाम बदलने की की नसीहत देकर दबाब बनाया जा रहा है।  
जैसे ही मामला झारखंड मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव संजय कुमार के संज्ञान में आया, जिसके बाद मिले आदेशों पर पुलिस राफिया की कड़ी सुरक्षा करने में जुट गई। आदेश पर अमल करते हुए रांची एसएसपी ने एक पुलिस दल को लड़की से मिलने के लिए भी भेजा। झारखंड पुलिस के हवाले से रिपोर्ट में कहा गया है कि लड़की को दो सुरक्षाकर्मी भी उपलब्धि कराए गए हैं, जिनमें एक पुरुष और दूसरी महिला है।
 

 

 

बता दें कि रांची के डोरंडा इलाके में रहने वाली राफिया नाज़ योग सिखाकर अपनी आजीविका चलाती हैं। योग सिखाना जारी रखने पर उसे फतवे के जरिये धमकाया गया है, जिसके बाद राफिया का परिवार बुरी तरह से डरा हुआ है। बहरहाल, जिस तरह से ये घटना सामने आई, वो कहीं न कहीं छोटी सोच और कट्टरता का सबूत दे रही है, जो बेहद शर्मनाक है। 



© 2016 All Rights Reserved.
Follow US On: