शनिवार, 21 अक्टूबर 2017 | 06:49 IST
दूसरों की बुराई देखना और सुनना ही बुरा बनने की शुरुआत है।
होम | उत्तराखंड | NH-74 घोटाले का पर्दाफाश करने वाले जांच अधिकारी का तबादला

NH-74 घोटाले का पर्दाफाश करने वाले जांच अधिकारी का तबादला


उत्तराखंड का बहुचर्चित एनएच 74 घोटाले की जांच साबाआई करेगी। वुधवार को सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत ने विधानसभा सत्र के बाद यह घोषणा की। हालांकि रावत ने वह भी कहा है कि एनएच 74 घोटाले की जांच अब सीबीआई द्वारा करवाई जाएगी। इसके अलावा किसानों का कर्ज माफी पर सीएम रावत के मुताबिक है कि राज्य की आर्थिक स्थिति ऐसी नहीं कि किसानों का ऋण माफ किया जा सके। बता दें कि हाल ही में NH-74 घोटाले का पर्दाफाश करने वाले जांच अधििकारी का तबादला कर दिेया गया। वहीं एनएच 74 मामले में एसआईटी की कार्रवाई जारी है। बुधवार को टीम ने करीब 10 से ज्यादा जगहों पर छापा मारा। सूत्रों के मुताबिक टीम ने देहरादून, बाजपुर, काशीपुर, सितारगंज और कालाढूंगी में छापेमारी की कार्रवाई कर कई अहम दस्तावेज जब्त किए हैं। वहीं अब पीएम मोदी के एक मंत्री पर इस घोटाले का खुलासा न हो, इसलिरए ब्लैकमेलिंाग का आरोप लगा है। हालही में बताया जा रहा हैं कि पहले ही एनएच 74 में 300 करोड़ का घोटाला सामने आया हैं। जिपसमें जांच अधिएकारी डी सें‌थिहल पांडिैयन का तबादला कर दिकया गया। प्रदेश की त्रिवेंद्र सरकार ने इसकी सीबीआई जांच की संस्तुत की थी। सांसद प्रदीप टम्टा ने कहा आरोप लगाया था कि पूर्ववर्ती कांग्रेस सरकार के कार्यकाल में एनएच-74 घोटाले का पता चला था। । लेकिन केंद्रीय सड़क एवं भूतल परिवहन गड़करी ने आरोपियों को बचाने के लिए अपने अधिकारों का गलत प्रयोग करते हुए राज्य सरकार पर दबाब बनाया है। पीएम मोदी ने कहा कि न खाऊंगा न खाने दूंगा का नारा दिया था, लेकिन एक मंत्री के आगे वह भी नतमस्तक हो गए हैं। ऐसा में उन्हें देश की जनता से माफी मांगनी चाहिए। 

 



© 2016 All Rights Reserved.
Follow US On: