शुक्रवार, 15 दिसम्बर 2017 | 01:52 IST
दूसरों की बुराई देखना और सुनना ही बुरा बनने की शुरुआत है।
होम | उत्तराखंड | गंगोत्री धाम में गूंजे नृत्य गंगा गाथा के गीत

गंगोत्री धाम में गूंजे नृत्य गंगा गाथा के गीत


गंगा ट्रैक और गंगा मंथन के लिए विभिन्न क्षेत्रों से आए विशेषज्ञों के दल का मंगलवार को गंगोत्री पहुंचने पर भव्य स्वागत किया गया। इस मौके पर गंगोत्री में संवेदना समूह की ओर से 'गंगा की गाथा' जनगीत यात्रा निकाली गई। इसके अलावा धाम में नृत्य नाटिका 'गंगा अवतरण', गंगा स्वच्छता को लेकर दक्षिण भारत की लघु नाटिका और गंगा गोमुख का स्लाइड शो भी आयोजित किया गया।

 

आपको बता दें कि नमामि गंगे परियोजना, निम ,नेहरू पर्वतारोहण संस्थान व यूथ फाउंडेशन, की ओर से आयोजित गंगा ट्रैक और गंगा मंथन कार्यक्रम के पहले दिन गंगोत्री में संवेदना समूह उत्तरकाशी के कलाकारों ने गंगा की गाथा के गीत गाये। इसके बाद समूह के कलाकारों ने गंगोत्री मंदिर परिसर में लघु नृत्य नाटिका व 'गंगा अवतरण' की प्रस्तुति दी। कलाकारों ने गंगा स्वच्छता को लेकर दक्षिण भारत के पर्यटकों पर आधारित नुक्कड़ नाटक का भी मंचन किया। इस अवसर पर प्रसिद्ध छायाकार गुलाब सिंह नेगी का स्लाइड शो भी दिखाया गया।

  

इस मौके पर नमामि गंगे परियोजना के नोडल अधिकारी डॉ. राघव लंगर ने गंगा ट्रैक और गंगा मंथन के बारे में जानकारी दी। उन्होंने बताया कि यह एक प्रयास है, जिसमें विभिन्न क्षेत्रों से आए विशेषज्ञ अपने विचार रखेंगे। इस मंथन का जो निचोड़ निकलेगा, उस पर आगे काम किया जाएगा। कार्यक्रम में विधायक गोपाल रावत ,गंगोत्री व प्रीतम पंवार ,धनोल्टी, भू वैज्ञानिक डॉ. नवीन जुयाल, जगत सिंह 'जंगली', प्रो. एसपी सती, वाडिया संस्थान देहरादून के वैज्ञानिक डॉ. पीएस नेगी, विधिक सेवा प्राधिकरण के सचिव हेमंत राणा आदि मौजूद थे। 

 



© 2016 All Rights Reserved.
Follow US On: