शनिवार, 18 नवंबर 2017 | 11:56 IST
दूसरों की बुराई देखना और सुनना ही बुरा बनने की शुरुआत है।
होम | उत्तराखंड | उत्तराखंड सरकार ने कैसे जीता नीति आयोग का दिल?

उत्तराखंड सरकार ने कैसे जीता नीति आयोग का दिल?


मंगलवार को नीति आयोग ने उत्तराखंड सरकार के कामों की जमकर सराहना की, जिसमें उन्होंने प्रदेश सरकार द्वारा किए कामों को उत्तराखंड को विकास की राह पर ले जाने का ज़रिया बताया। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने नीति आयोग के साथ मिलकर जनहित के कई कार्यों को पूरा किया। राज्य सरकार ने कई क्षेत्रों में अभूतपूर्व कार्यों पर खुशी जाहिर करते हुए उन्होंने कहा कि कई क्षेत्रों में राष्ट्रीय औसत और बड़े राज्यों के औसत से भी अधिक है, जहां प्रति व्यक्ति आय 146826 रुपए है, जबकि औसत आय 94130 रुपए है। वहीं, मानव विकास सूचकांक भी 7 यानी 0.115, राष्ट्रीय स्तर पर 0.504 है, जबकि सामाजिक विकास इंडेक्स में 64.23 और राष्ट्रीय स्तर पर 53.92 है। 

 

 

इस दौरान आयोग को प्रस्तुतिकरण के ज़रिए स्वास्थ्य सूचकांक और चिकित्सा सुविधाओं, देहरादून, अल्मोड़ा में कार्डिएक सेंटर निजी क्षेत्र की सहभागिता से संचालन की जानकारी दी गई। इससे पहले आयोग को नैनीताल, काशीपुर और कोटद्वारा में प्रस्तावित, जबकि देहरादून और हल्द्वानी में नेफ्रो सेंटर के संचालन के बारे में बताया गया। इसमें उन्होंने कहा कि 34 अस्पतालों में शुरू की गई टेली रेडियोलॉजी, शिक्षा में 2018 से लागू की जा रही एनसीईआरटी की पाठ्य पुस्तकें, सभी ब्लॉकों में 2 प्राइमरी, 1 अपर प्राइमरी और 2 सेकंडरी स्कूल में मॉडल स्कूल शुरू किए जाने के साथ ही 2018 से कक्षा 3 से विज्ञान अंग्रेजी माध्यम में पढ़ाये जाने की जानकारी भी दी। 



© 2016 All Rights Reserved.
Follow US On: