रविवार, 19 नवंबर 2017 | 10:22 IST
दूसरों की बुराई देखना और सुनना ही बुरा बनने की शुरुआत है।
होम | उत्तराखंड | गोपीनाथ मंदिर में विराजमान हुए चतुर्थ केदार भगवान रुद्रनाथ

गोपीनाथ मंदिर में विराजमान हुए चतुर्थ केदार भगवान रुद्रनाथ


मंगलवार तड़के विशेष पूजा के बाद पंचकेदारों में चतुर्थ केदार भगवान रुद्रनाथ के कपाट शीतकाल यानी सात महीने के लिए बंद कर दिए गए, जिसके बाद देर शाम भगवान रुद्रनाथ को गोपेश्वर के गोपीनाथ मंदिर में विराजमान किया गया है। भगवान रुद्रनाथ को गोपीनाथ मंदिर में स्थारित करने से पहले मंदिर के पुजारी जनार्दन प्रसाद तिवाड़ी ने पूरे विधि-विधान से भगवान रुद्रनाथ को स्थापित किया, जहां  जिसके बाद श्रद्धालुओं को अगले सात महीनों तक भगवान रुद्रनाथ के दर्शन गोपेश्वर के गोपीनाथ मंदिर में होंगे। स्थापना से पूर्व दोपहर में 18 किलोमीटर का पैदल सफर तय करके भक्तों का बड़ा समूह सगर गांव पहुंचा। इस दौरान ग्रामीणों ने रुद्रनाथ भगवान का फूल-मालाओं से स्वागत करके नए अनाज का भोग लगाया।
स्वागत सत्कार के बाद रुद्रपुर भगवान की यह टोली ग्वाड़, सगर और गंगोलगांव होते हुए गोपेश्वर पहुंची, जहां रुद्रनाथ के स्वागत के लिए 200 से भी ज़्यादा श्रद्धालू गोपीनाथ मंदिर परिसर में जुटे और शाम करीब छह बजे रुद्रनाथ भगवान को पंडित प्रयाग दत्त भट्ट, अनसूया प्रसाद भट्ट, हरीश भट्ट, कांति भट्ट, नवीन भट्ट, वंशीधर भट्ट, शांति प्रसाद, सत्येंद्र रावत, अवतार सिंह, ओम प्रकाश नेगी, कैलाश तिवाड़ी और सुनील चौहान की मौजूदगी में गोपीनाथ मंदिर में विराजमान किया गया।

 



© 2016 All Rights Reserved.
Follow US On: