सोमवार, 19 फ़रवरी 2018 | 09:16 IST
जितना कठिन संघर्ष होगा, जीत उतनी ही शानदार होगी
होम | उत्तराखंड | उत्तराखंड में एक किसान ने कर्ज के बोझ तले जहर खाकर की आत्महत्या

उत्तराखंड में एक किसान ने कर्ज के बोझ तले जहर खाकर की आत्महत्या


महाराष्ट्र और मध्यप्रदेश के बाद ऍम उत्तराखंड में कर्ज के बोझ को लेकर आत्महत्या करने वाले पिथौरागढ़ जिले के किसान की मौत को लेकर सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत ने बेहद गैरजिम्मेदाराना बयान देकर विपक्ष को आलोचना को मौका दे दिया हैं। ऐसा पहली बार हुआ है जब पिथौरागढ़ जिले के किसी किसान ने आत्महत्या की है। लेकिन विपक्ष कांग्रेस पार्टी ने मुख्यमंत्री के इस बयान को संवेदनहीन बताते हुए माफ़ी मांगने की मांग की है। उत्तराखंड के पूर्व सीएम हरीश रावत ने अपने फेसबुक पोस्ट में लिखा- 'देवी नाद के डोल डूंगरी गाँव के सुरेन्द्र सिंह की किसान ऋण अदा न कर पाने के कारण आत्महत्या अत्यधिक दुखद: है। दरअसल उन्होंने लिखा हैं कि उत्तराखंड में किसान के ऋण अदा न कर पाने के कारण पहली मौत है। हम सब की संवेदनाएं सुरेन्द्र की पत्नी, बच्चों और उसके परिवार के साथ है। लेकिन सुरेंद्र की खुदकुशी से गुस्साए गांववालों ने ज़िले की बेरीनाग तहसील में प्रदर्शन किया। हालांकि उनके मुताबिक है कि कांग्रेस पार्टी के कार्यकर्ताओं ने भी इसके विरोध में प्रदर्शन किया। ईसाई समुदाय से ताल्लुक रखने वाले 60 वर्षीय सुरेन्द सिंह ने 5 वर्ष पहले ग्रामीण बैंक से 50000 रूपये का कृषि लोन लिया था। लेकिन फसल बर्बाद होने के कारण वो बैंक का लोन तो नहीं चुका पाए।

 



© 2016 All Rights Reserved.
Follow US On: