मंगलवार, 24 अप्रैल 2018 | 02:18 IST
समर्थन और विरोध केवल विचारों का होना चाहिये किसी व्यक्ति का नहीं!!
होम | देश | लालू की सिफारिश करने वाले डीएम पर सीएम योगी ने गिराई गाज

लालू की सिफारिश करने वाले डीएम पर सीएम योगी ने गिराई गाज


बिहार के पूर्व सीएम और आरजेडी प्रमुख लालू प्रसाद यादव इन दिनों चारा घोटाले को लेकर जेल में सजा काट रहे हैं। ऐसे में उनेके परिवार और समर्थकों में इस समय काफी दुख की स्थित बनी हुई है और वे लालू की मदद करने के लिये कुछ भी करने को तैयार हैं। बस, ऐसी ही मदद करने का आरोप यूपी के डीएम पर भी लग रहा है जिसके बाद योगी ने डीएम साहब की क्लास लगा दी है।

 

जी हाँ, आपको बता दें कि चारा घोटाले के आरोप में रांची की जेल में बंद लालू प्रसाद यादव के पक्ष में पैरवी करने के मामले में जालौन के डीएम डॉ.मन्नान अख्तर के साथ एसडीएम भी अब मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की रडार पर हैं। योगी ने इस मामले में जालौन के डीएम डॉ. मन्नान अख्तर व एसडीएम के खिलाफ जांच के आदेश दिए हैं, क्योंकि यूपी के डीएम ने जज से चारा घोटाले के मामले में लालू प्रसाद यादव को राहत देने के लिए  सिफारिश की थी। क्योंकि लालू को सजा सुनाने वाले जज यूपी के ही रहने वाले हैं, लेकिन जज ने इस सिफारिश को  अनसुना कर दिया। जज ने लालू यादव को सजा सुनाने के दौरान सिफारिशी फोन आने का जिक्र भी किया था, लेकिन उन्होंने किसी का नाम लिया था। और अब इसी मामले में योगी सरकार अपराधी की पैरवी करने पर बिफरी हुई है। शासन ने आला अधिकारियों को तलब किया है। साथ ही दिल्ली से भी आला कमान ने चीफ सेक्रेटरी से उनकी रिपोर्ट मांगी है, इसके बाद से सरकारी तंत्र में हड़कंप मचा हुआ है। जिस तरह से सीएम योगी ने कार्रवाई की है, उसे  देखकर तो ऐसा ही लगता है कि योगी लालू के किसी भी शुभ चिंतक को नहीं छोड़ना चाहते हैं। अब ये देखना काफी दिलचस्प होगा कि लालू परिवार इस पर क्या प्रतिक्रिया देता है। 



© 2016 All Rights Reserved.
Follow US On: