बुधवार, 24 अक्टूबर 2018 | 02:17 IST
समर्थन और विरोध केवल विचारों का होना चाहिये किसी व्यक्ति का नहीं!!
होम | सेहत | निमोनिया की परेशानी से दिलीप कुमार नहीं मना रहे 95 वां जन्मदिन

निमोनिया की परेशानी से दिलीप कुमार नहीं मना रहे 95 वां जन्मदिन


स्वास्थ्य और सेहत सभी को अच्छी लगती है। लेकिन जब शरीर में बीमारी हो तो मुश्किल होता है अपनी खुशीयाँ मनाना। वही दूसरी ओर हिन्दी सिनेमा के फिल्म स्टार दिलीप कुमार कुछ ऐसी ही बिमारी से पीड़ित होने के कारण आज अपना 95 वां जन्मदिन मनाने से मना कर दिया।

जानकारी के मुताबिक, दिलीप कुमार लंबे समय से निमोनिया से ग्रस्त है। फिलहाल वे घर पर आराम फरमा रहे है। यह बिमारी सामान्यता संक्रमण के कारण फैलती है। जिसके कारण सांस लेने में तकलीफ, बुखार, खांसी लगातार होती रहती है। बहरहाल सायरा बानो वनीला आइसक्रीम व बिरयानी बना जन्मदिन को खास बनाने की सोच रही है। सायरा का कहना है कि उनकी पसंद की चीजें बनाने के बावजूद डाँक्टर की सलाह पर ही दूंगी। निमोनिया में आपके फेफड़ें क्षतिग्रस्त हो जाते है। सांस लेने में तकलीफ आती है। और फेफड़ों से बलगम बन जाता है।

निमोनिया से बचने के लिए ये सब करना आपके लिए बेहद जरूरी है। निमोनिया से बचने के लिए शुद्ध छना हुआ पानी अधिक मात्रा में पानी का सेवन करें। साथ ही ताज़ी सब्जियाँ खासकर रोमेन लेट्यूस, गाजर, चुकंदर, प्याज, अजमोदा, पत्तागोभी, फूलगोभी, ब्रोकोली, ककड़ी, मूली, जेरुसलम आर्टिचोक, एवोकेडो, मिर्च, टमाटर और ककड़ी लहसुन, अदरक, मिर्च, और प्याज फेफड़ों और श्वसन तंत्र के लिए अत्यंत लाभकारी होते हैं और इसलिए नियमित रूप से लिए जाने चाहिये। साथ ही गर्म, नम हवा में श्वास लेना चिपचिपे बलगम को निकालने में उपयोगी होता है, इसके लिए ह्यूमिडिफायर में गर्म पानी भरें और इसके गर्म धुएं में साँस लें। योगा के द्वारा भी आप श्वास की बिमारी निमोनिया के रोग से नीजात पा सकते हो। पेट द्वारा श्वास लेना, पेट और छाती से साँस लेना, खाँसी का व्यायाम, बारी-बारी से दोनों नथुनों द्वारा श्वास लेना इन सबके साथ-साथ पर्स्ड लिप ब्रीदिंग (बंद होंठों और बंद मुँह की सहायता से साँस लेना) करने से आपको लाभ मिल सकता है। 



© 2016 All Rights Reserved.
Follow US On: