शनिवार, 16 दिसम्बर 2017 | 06:11 IST
दूसरों की बुराई देखना और सुनना ही बुरा बनने की शुरुआत है।
विजय दिवस के मौके पर शहीदों को दी श्रद्धांजली।           अध्यक्ष बनते ही बीजेपी पार्टी पर तगड़े तंज: राहुल गांधी           राहुल गांधी बने कांग्रेस पार्टी के नये अध्यक्ष।          कोयला घोटाले में मधु कोड़ा को 3 साल की सजा, 25 लाख का जुर्माना           तीन तलाक दिया तो 3 साल की सजा होगी ।          केंद्रीय मंत्रिमंडल ने ट्रिपल तलाक बिल को दी मंजूरी          राहुल गांधी की ताजपोशी 16 दिसंबर को होगी।          कांग्रेस पार्टी के नये अध्यक्ष बनने जा रहे है राहुल गांधी          हिमाचल प्रदेश व गुजरात विधानसभा चुनावों के फैसले 18 दिसंबर को होंगे जारी।          राज्यसभा में विपक्षी दलों का हंगामा।          लोकसभा 18 दिसंबर तक के लिए स्थगित ।          18 दिसंबर को होगा फैसला: भाजपा या कांग्रेस         
होम | दुनिया | इस फैसले से भड़के अमेरिका की पाक को सलाह

इस फैसले से भड़के अमेरिका की पाक को सलाह


भारत और अमेरिका बीते दिनों मोस्ट वॉन्टेड आतंकी और मुंबई हमलों के मास्टर माइंड हाफिज़ सईद की रिहाई पर ऐतराज जता चुके हैं, लेकिन आतंकी संगठनों पर पाकिस्तान के रवैये से ख़फा अमेरिका ने उसे दो-टूक शब्दों में चेतावनी जारी की है। आतंकी संगठनों के पनाहगार पाकिस्तान पर ये बयान अमेरिकी रक्षा मंत्री की तरफ से जारी किया गया, जिसमें उन्होंने पाकिस्तान को सक्रिय आतंकी संगठनों पर निर्णायक कार्रवाई करने की सलाह दी।

 

आपको बता दें कि जिम मैटिस ने ये बात अमेरिकी रक्षा मंत्री बनने के बाद, जबकि पहले इस्लामाबाद दौरे से पूर्व कही। वहीं, ससे पहले अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने 21 अगस्त को अपनी दक्षिण एशिया नीति का ऐलान किया था, जिसमें उन्होंने आतंकियों को पनाह देने को लेकर पाकिस्तान की जमकर बखिया उधेड़ी थी। पाकिस्तान द्वारा हाफिज सईद की रिहाई के बाद मैटिस इस्लामाबाद यात्रा पर जा रहे हैं। 

 

सईद की रिहाई पर नाराजगी जाहिर करते हुए अमेरिका ने कहा कि यह आतंकियों का पनाहगाह नहीं होने के पाकिस्तान के दावे को झुठलाता है। जानकारी के मुताबिक, शुक्रवार से ही मैटिस की मिस्र, जार्डन, पाकिस्तान और कुवैत समेत चार देशों का दौरा शुरू हुआ है। बताया जा रहा है कि चार देशों के दौरे में मैटिस फिर मध्य-पूर्व, पश्चिम अफ्रीका और दक्षिण एशिया में भागीदारी के लिए अमेरिका की स्थायी प्रतिबद्धता की पुष्टि करते दिखेंगे।

 

मिस्र दौरे पर जाते वक्त मैटिस ने बताया, कि 'अफगानिस्तान में, हमने पाकिस्तानी नेताओं के मुंह से सुना कि वे आतंकवाद का समर्थन नहीं करते हैं, इसलिए मुझे उम्मीद है कि उनकी कार्रवाई उनकी नीतियों में भी दिखाई देगी।' साथ ही उन्होंने कहा, 'वे कहते हैं कि वे किसी भी आतंकी संगठन या उन्हें पनाह देने वालों का समर्थन नहीं करते हैं। पाकिस्तान खुद को आतंकवाद पीड़ित देश बताता है, जबकि निर्दोष जनता और सेना खुद पाकिस्तान की शिकार हुई हैं। हम अपेक्षा करते हैं कि पाकित्सान सबके हित, शांति, सहयोग और क्षेत्रीय स्थिरता के लिए काम करे।'



© 2016 All Rights Reserved.
Follow US On: