शनिवार, 18 नवंबर 2017 | 11:54 IST
दूसरों की बुराई देखना और सुनना ही बुरा बनने की शुरुआत है।
होम | क्राइम | बेलगाम गोरक्षकों से फिर राजस्थान का अलवर शर्मसार

बेलगाम गोरक्षकों से फिर राजस्थान का अलवर शर्मसार


बीजेपी राज में गोरक्षकों की गुंडागर्दी लगातार बढ़ती जा रही है। मोदी सरकार के समझाने और नसीहत देने के बाद भी गोरक्षक लगातार इंसानियत को ताक पर रखकर मुस्लिम गो-पालकों को निशाना बनाते जा रहे हैं और ऐसी ही हरकत ने एक बार फिर राजस्थान के अलवर को शर्मसार कर दिया है। आपको बता दें कि 10 नवंबर को राजस्थान के अलवर में रेल की पटरी के किनारे से मिले युवक के शव के मामले में नया मोड आया है। 

 

जी हां, राजस्थान के अलवर में गौरक्षा के नाम पर मोहम्मद उमर खान नाम एक शख्स की गोली मार कर हत्या कर दी गयी। इससे गुस्साए मेव समुदाय के लोगों ने जमकर हंगामा किया और गौरक्षकों पर उसकी हत्या का आरोप लगाया। बता दें कि भरतपुर के घटलिका का निवासी उमर मोहम्मद की हत्या को उस वक्त अंजाम दिया गया, जब कथित रूप से वह और उसके दो अन्य साथी गोवंश को गाड़ी पर लेकर जा रहे थे। वहीं, इस घटना के बाद अलवर का पारा उफान पर है।

 


खबरों की मुताबिक, गोवंश ले रहे साशियों में एक उमर का एक रिश्तेदार था और हमले का शिकार हुए ताहिर नाम शख्स का फिलहाल इलाज के लिए अस्पताल मे भर्ती है, जबकि तीसरे शख्स का नाम जावेद है। बता दें कि उमर मोहम्मद की हत्या के आरोप में पुलिस ने सोमवार को एक शख्स को गिरफ्तार किया है। उधर, राज्य के गृहमंत्री गुलाब चंद कटारिया का कहना है कि कि मामले की जांच कर दोषियों को सजा दी जायेगी। हालांकि इस दौरान उन्होंने यह भी कहा कि मामले की सच्चाई की पूरी जानकारी जांच के बाद ही हो पाएगी, लेकिन उन्होंने पुलिस बल की कमी का रोना भी रोया। कटारिया ने कहा कि हर जिले में और हर जगह हर परिस्थिति को काबू में करने के लिए हमारे पास पर्याप्त मेन पॉवर नहीं है। बहरहाल, जिस तरह से नेता जी ने बयान दिया है उससे साफ है कि नेता जी अपनी नाकामी छुपाकर ममाले से पल्ला झाड़ रहे हैं। अब ये आने वाला वक्त बताएगा कि आरोपियों को उनके किये की क्या सजा मिलती है।



© 2016 All Rights Reserved.
Follow US On: