बुधवार, 26 जून 2019 | 04:03 IST
समर्थन और विरोध केवल विचारों का होना चाहिये किसी व्यक्ति का नहीं!!
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वादे पूरे करने के लिए बनाई समिति, 15 दिनों के भीतर सौंपनी होगी रिपोर्ट          चमकी बुखार मामले पर SC सख्त, केंद्र, बिहार व यूपी सरकार को नोटिस भेजकर सात दिन में मांगा जवाब          विदेश मंत्री एस जयशंकर ने ली बीजेपी की सदस्यता, कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा रहे मौजूद          मायावती का बड़ा ऐलान, BSP भविष्य में छोटे-बड़े सभी चुनाव अकेले लड़ेगी          कांग्रेस ने राज्यसभा में उठाया बढ़ती आबादी का मुद्दा, कहा- नियंत्रण नहीं हुआ तो विकास बेमानी          अमेरिका और ईरान के बीच तनाव बढ़ा,अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोंपियो सऊदी अरब के दौरे पर,मौजूदा हालात पर करेंगे चर्चा          रिजर्व बैंक के डिप्‍टी गवर्नर विरल आचार्य ने दिया इस्‍तीफा, 6 महीने बाद समाप्त होना था कार्यकाल          भ्रष्ट अफसरों को जबरन वीआरएस दिया जाए, ऐसे लोग नहीं चाहिए-योगी आदित्यनाथ         
होम | क्राइम | पुलिस एनकाउंटर में गई 8 साल के बच्चे की जान

पुलिस एनकाउंटर में गई 8 साल के बच्चे की जान


यूपी में जब से सीएम योगी की सरकार बनी है तब से ही यूपी में बदमाशों के खिलाफ जो एनकाउंटर अभियान शुरू हुआ है वह है कि खत्म होने का नाम नहीं ले रहा है, लेकिन अब बदमाशों के एनकाउंटर में जुटी यूपी पुलिस की लापरवाही से एक मासूम को अपनी जान गंवानी पड़ी है। जी हां, मथुरा की हाइवे थाना पुलिस पास के ही एक गांव में एनकाउंटर करने गई थी। अपराधी तो भाग निकले, लेकिन पुलिस की गोली लगने से एक बच्चे की मौत हो गई। जिसके बाद यूपी को भयमुक्त और अपराधमुक्त बनाने के लिए यूपी पुलिस के ऑपरेशन ऑल आउट पर पहली बार बड़े विवादों में घिर गई है। जिसके बाद यूपी के सीएम योगी ने 5 लाख मुआवजा देने की घोषणा की है।

 


आपको बता दें, कि जब हाइवे थाना पुलिस किसी बदमाश को पकड़ने नवादा गांव पहुंची थी, तभी बदमाशों ने फायरिंग करते हुए भागने लगे। करीब आधे घंटे तक पुलिस और बदमाशों के बीच गोलियां चलती रही इसी दौरान पुलिस की एक गोली वहीं खेल रहे बच्चे माधव के सिर पर जा लगी। जिसके बाद उसे तुरंत अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां उसकी मौत हो गई। पूरे मामले में गौर करने वाली बात यह है कि वहां मौजूद किसी भी चश्मदीद ने किसी बदमाश को देखा ही नहीं। ऐसा लगता है पुलिस ने सिर्फ बदमाश होने के अंदेशे में ही गोलियां चला दी थी। जिसके बाद पुलिस की गोली लगने से बच्चे की मौत की खबर ऐसी फैली की पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया। आनन-फानन में बड़े अधिकारी बच्चे के घरवालों से मिले, उन्हें सांत्वना दी और सीएम ने 5 लाख के मुआवजा देने की घोषणा की है। इसी बीच यूपी पुलिस ने मामले को शांत करने के लिए जांच के आदेश दे दिए हैं।

 



© 2016 All Rights Reserved.
Follow US On: